इन नामी उद्योगपतियों के भी फोन में है Signal App

Whatsapp Privacy Policy 2021 के खिलाफ लोगों की नाराजगी से इंस्टैंट मेसेजिंग ऐप Signal और Telegram को काफी फायदा हो रहा है। लोग वॉट्सऐप छोड़कर सिग्नल पर आने लगे हैं और इसकी बदौलत Apple App Store पर Signal Free Apps कैटिगरी में नंबर 1 पर आ गया है। इसका एक सबसे बड़ा उदाहरण बुधवार को देखने को मिला, जहां टेलीग्राम ने बताया कि बुधवार को उसने बीते 72 घंटे में ढाई करोड़ नए यूजर्स बनाए। आइये जानते हैं कि Signal App एप के बारे में सब कुछ और किन नामी लोगों ने इसका इस्तेमाल शुरू किया है।

दुनिया के सबसे लोकप्रिय मैसेंजिंग एप वॉट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर हंगामा मचा है। पूरी दुनिया के लोग व्हाट्सएप प्राइवेसी पॉलिसी की शर्तों और नियम को डेटा सिक्यॉरिटी के खिलाफ बताने में लगे हैं। व्हाट्सएप के इसी विरोध का फायदा सिग्नल एप को मिल रहा है। सिग्लन एप भी व्हाट्सएप की तरह ही एक मैसेजिंग एप है और इसे इस्तेमाल करना उतना ही आसान है, जितना की व्हाट्सएप को इस्तेमाल करना है।

विज्ञापन मुक्त है Signal
सिग्नल का दावा है कि उसका प्लेटफॉर्म विज्ञापन मुक्त है वह प्राइवेसी के मामले में काफी अच्छा है। डाउनलोड के मामले में Signal Free Apps कैटिगरी में Apple App Store पर नंबर 1 स्थान पर है, वहीं Google Play Store पर चौथे स्थान पर है।

एलन मस्क भी इस्तेमाल कर रहे हैं सिग्नल ऐप
दुनिया के अमीर शख्स एलन मस्क भी सिग्नल ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं क्योंकि व्हाट्सएप में डाटा की सिक्टोरिटी का सवाल उठ गया है। हाल ही में उन्होंने इस बात की जानकारी माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर ट्वीट करके दी थी। गौर करने वाली बात यह है कि ये ऐप आपका पर्सनल डेटा स्टोर नहीं करता है। सिग्नल एप के फीचर्स की बात करें तो ये ऐप अपने यूजर्स को Data Linked to You फीचर देता है। इस फीचर को इनेबल करने से कोई भी आपकी चैटिंग का स्क्रीनशॉट नहीं ले सकेगा। Signal ऐप पर पुराने मैसेज खुद ही गायब हो जाते हैं। इसके लिए Users 10 सेकेंड से लेकर एक हफ्ते तक की Timing सेट कर सकते हैं। इसमें मेसेजिंग, वॉयस और वीडियो कॉलिंग के साथ ही स्टिकर्स जैसे फीचर्स भी हैं।

भारतीय उद्योगपतियों में भी बढ़ रही है लोकप्रियता
भारत के नामी दिग्गज कारोबारियों ने भी सिग्नल ऐप का इस्तेमाल शुरू कर दिया है। इस लिस्ट में आनंद महिंद्रा Paytm के फाउंडर विजय शेखर शर्मा और टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन का नाम शामिल है। इसके अलावा जिंदल एंड पावर कंपनी ने अपने कर्मचारियों को वाट्सऐप की बजाय सिग्नल या टेलीग्राम इस्तेमाल करने की सलाह दी है।

व्हाट्सएप के खिलाफ लोगों में क्यो है गुस्सा
WHATSAPP ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव किया है, जिसमें यूजर के डेटा की सिक्योरिटी खतरे में हैं। इसके लिए व्हाट्सएप एक नोटिफिकेशन भेज रहा है जिसे एक्सेप्ट नहीं किया तो व्हाट्सएप बंद हो जाएगा। हालांकि विवाद होने के बाद व्हाट्सएप ने इस पर सफाई दी है की यूजर का डेटा सुरक्षित रहेगा, लेकिन इसके बावजूद भी व्हाट्सएप को भारी नुकसान हो रहा है जिसका फायदा सिग्नल एप को मिल रहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो








Source link

Share