सिद्धू ने शिल्पा शेट्टी पर लट्टू शख्स को सिखाया था सबक, कमेंटेटर की बंद कर दी थी बोलती

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर नवजोत सिंह सिद्धू ने एक बार इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर ज्योफ्री बॉयकॉट की बोलती बंद कर दी थी। नवजोत सिंह सिद्धू ने यह बात वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा के शो ‘आप की अदालत’ में बताई थी। सिद्धू का कहना था कि ज्योफ्री बॉयकॉट उन्हें छोटा समझकर उनका मजाक उड़ा रहे थे, उन्हें नीचा दिखाने की कोशिश कर रहे थे।

शो के दौरान रजत शर्मा ने नवजोत सिंह सिद्धू से कहा, ‘आप यह बताइए कि आपकी बातों से जो ज्योफ्री बॉयकॉट को ठेस पहुंची थी…।’ रजत शर्मा अपनी बात पूरी कर पाते इससे पहले ही सिद्धू ने कहा, ‘अब देखो ज्योफ्री बॉयकॉट की बात ले आए। ज्योफ्री बॉयकॉट ने सारी दुनिया की चड्ढी उतारी, जिसने उसकी चड्ढी पर हाथ डाला तो उसकी आऊं-माऊं होने लगी। यह तो गलत बात है ना। अरे जब मैं कॉमेंट्री करने गया तो पहले 15 दिन मैंने सर ज्योफ्री बॉयकॉट को बहुत इज्जत दी, लेकिन वह समझे ही नहीं उस बात को।’

सिद्धू ने कहा, ‘उन्होंने सोचा कि यह तो छोटा सा बच्चा है। अब इसको जरिया बनाकर मैं लोगों को हंसाऊं और इसको नीचे दिखाऊं। अब जिन्हें हम हार समझे थे, गला अपना सजाने को। वही अब नाग बन बैठे, हमें काट खाने को। यह तो बात गलत हुई ना। तो मैंने कहा कि भई नवजोत सिंह अब बंदा ठीक तरह से बनकर दिखाना है। अब लोहे को लोहा काटेगा।’

सिद्धू ने बताया, ‘उन दिनों सर ज्योफ्री शिल्पा शेट्टी पर लट्टू थे। अब मेरा तो कोई कसूर नहीं था। अगर बूढ़ी घोड़ी लाल लगाम हो जाए तो मेरा तो कोई कसूर नहीं है। मैं उनके पास गया। मैंने उनसे कहा कि सर ज्योफ्री शिल्पा आपको देखकर मुस्कुरा रही हैं, क्योंकि वह सोचती हैं कि आप उनके पिता के बहुत अच्छे दोस्त हैं। इतना सुनते ही वह तिलमिला गए। कहने लगे कि नहीं नहीं नहीं। ऐसी तो कोई बात नहीं है। आई एम वेरी यंग (मैं बहुत जवान हूं)। लुक एट माई हेड (मेरा मत्था देखो) मैं अब भी बहुत जवान हूं।’

सिद्धू ने बताया, ‘मैंने उनसे कहा कि हां सर ज्योफ्री। आखिरी बार जब आपने अपना जन्मदिन मनाया था तब मोमबत्तियों की कीमत आपके बर्थडे केक से ज्यादा थी। वह और घबरा गया। मैंने कहा कि तुम देखो तो सही तुम्हारे सिर पर एक भी बाल नहीं है। तुम्हें तो डैन्ड्रफ भी नहीं हो सकता। तो वह फड़फड़ा गया। उसे लगा कि यह बंदा तो बहुत तेज लग रहा है तब वह मुझे लेकर एक ओर गया।’

सिद्धू ने कहा, ‘उसने मुझसे कहा कि सिद्धू। मैंने कहा कि यस सर ज्योफ्री। वह बोले- सिद्धू अपनी सीमा-रेखा पार करने की कोशिश मत करो। मैंने कहा कि ओल्ड मैन (बुड्ढे आदमी) यदि तुम अपनी सीमा-रेखा पार करोगे तो मैं उससे ज्यादा सीमाएं लांघ जाऊंगा। समझ गए ना। यह सुनकर तिलमिला गया ज्योफ्री। देखो कई बार ऐसी चीजें होती हैं कि मजाक-मजाक में आदमी हीरो बन जाता है। कई बार ऐसी बात होती है कि आप जो मर्जी कोशिश करो, वह उलटी पड़ती है। हमारा तो यह है कि भगवान की कृपा है। लल्लू करे कव्वलियां रब सिद्धियां पावे।’ यह सुनते ही शो में मौजूद ऑडियंस सिद्धू के लिए ताली बजाने लगी।




Source link

About Clickinfo Hindi Team 10095 Articles
हम क्लिकइंफो हिंदी टीम हैं हमारा काम जनता तक सही और सच्ची खबरें पंहुचा हैं !