2000 कैदी हो गए फरार, शहर में लगाया गया कर्फ्यू जेलो पर बड़ा हमला

Nigeria-Police
image source: premiumtimesng

नई दिल्ली: नाइजीरिया में लगभग दो हजार कैदी जेल से भाग गए हैं। भीड़ ने यहां दो जेलों पर हमला किया, जिसके बाद ये कैदी फरार हो गए। अशांति को रोकने के लिए नाइजीरिया के लागोस में पुलिस ने 24 घंटे कर्फ्यू लगा दिया है। लोग पुलिस की बर्बरता के खिलाफ सड़क पर उतर आए हैं और दो सप्ताह से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

एंटी-दंगा विभाग के महानिरीक्षक ने नाइजीरिया की जेलों के आसपास सुरक्षा बढ़ाने का आदेश दिया है। पुलिस ने एक बयान जारी कर कहा है कि कानून का पूरा इस्तेमाल लोगों के जीवन और संपत्ति को नुकसान से बचाने के लिए किया जाएगा।

पुलिस की बर्बरता का विरोध
लागोस के राज्य के गवर्नर बाबाजीदे सनो-ओल्यू ने एक बयान जारी कर कहा कि पुलिस की बर्बरता के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हमारे समाज की भलाई के लिए खतरा बन रहे हैं। उसका दावा है कि अपराधियों ने लोगों के इन प्रदर्शनों पर कब्जा कर लिया है।

नाइजीरिया के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद मंगा ने कहा कि सशस्त्र भीड़ ने दो जेलों पर हमला किया। तब से 1993 के कैदी लापता हो गए हैं। यह पता नहीं है कि हमले से पहले कितने कैदी जेल में बंद थे। प्रदर्शनकारियों ने शहर की महत्वपूर्ण सड़कों को अवरुद्ध कर दिया है। इसके साथ ही इंटरनेशनल एयरपोर्ट की ओर जाने वाली सड़क को भी बंद कर दिया गया है।

15 लोगों की मौत
दूसरी ओर, लोगों ने आरोप लगाया है कि पुलिस की बर्बरता के खिलाफ प्रदर्शनों में 15 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। नाइजीरिया में लोग स्पेशल एंटी-रॉबरी स्क्वाड (SARS) का विरोध कर रहे हैं। पुलिस यूनिट लंबे समय से जबरन वसूली, यातना और हत्या जैसे प्रमुख आरोपों का सामना कर रही है। प्रदर्शनों के बाद, यह घोषणा की गई है कि एसएआरएस को हटा दिया जाएगा और एक विशेष हथियार और रणनीति (स्वाट) टीम द्वारा प्रतिस्थापित किया जाएगा।

लोगों को पुलिस पर भरोसा नहीं है
लोगों को पुलिस के इस बयान पर विश्वास नहीं हो रहा है। वह कहते हैं कि यह नाटक सिर्फ नाम बदलने का है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि सड़कें तब तक आंदोलन करती रहेंगी, जब तक कि उनसे किए गए वादे पूरे नहीं हो जाते।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.