Freelance Journalist Rajiv Sharma ने डेढ़ साल में चीन से कमाए 40 लाख, हर सूचना के मिलते थे $1000

Freelance-Journalist Rajiv-Sharma-earned-40-lakhs-from-China-in-one-and-a-half-years

नई दिल्ली। Chinese Intelligence Agency के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किए गए (Freelance Journalist Rajiv Sharma) फ्रीलांस पत्रकार राजीव शर्मा  ने चीनी को रक्षा से जुड़ी महत्वपूर्ण गोपनीय जानकारी देकर पिछले साल और साढ़े चार लाख रुपये कमाए। राजीव शर्मा को प्रत्येक जानकारी के लिए $ 1000 मिलते थे।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल (Special sale) के डीसीपी संजीव कुमार यादव (DCP Sanjeev Kumar Yadav) ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह चौंकाने वाला खुलासा किया है। “DCP ने कहा कि राजीव शर्मा Chinese newspaper  ‘ग्लोबल टाइम्स’  (Global Times)में रक्षा मामलों पर लेख लिखते थे और वर्ष 2016 में चीनी एजेंट के संपर्क में आए थे”। राजीव शर्मा कुछ चीनी खुफिया अधिकारियों के संपर्क में भी थे।

DCP संजीव कुमार यादव ने बताया कि जर्नलिस्ट राजीव शर्मा ((Rajiv Sharma}) 2016 से 2018 तक चीनी खुफिया अधिकारियों को संवेदनशील रक्षा और रणनीतिक जानकारी प्रदान करने में शामिल थे”। इसके लिए उन्होंने विभिन्न देशों में कई स्थानों पर चीनी खुफिया अधिकारियों के साथ मुलाकात की। इन बैठकों में भारत-चीन सीमा मुद्दे, सीमा पर सेना की तैनाती और सरकार द्वारा तैयार की गई रणनीति इत्यादि पर जानकारी साझा की गई।

स्पेशल सेल फ्रीलांस जर्नलिस्ट  राजीव शर्मा (Special Cell Freelance Journalist Rajiv Sharma) को 14 सितंबर को सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (Central Intelligence Agency) से मिली जानकारी के आधार पर गिरफ्तार किया गया था। उसके पास से Ministry of Defence के गोपनीय दस्तावेज मिले हैं।