तुर्की के बुलंद इरादों के आगे आखिरकर ग्रीस बात चित के लिए राजी हो गया

राष्ट्रपति-रजब-तय्यब-एर्डोगन

राष्ट्रपति रजब तय्यब एर्डोगन ने बताया की तुर्की के मजबूत इरादे को देखते हुए ग्रीस बात चित के लिए तईयार हो गया है 

पूर्वी भूमध्यसागर तनाव को काम करने के लिए rajnetik bat chit शुरू हो गयी है  एर्डोगन ने कहा की हमने 2023 के लिए अपने बड़े मंसूबों के लिए तईयारी शुरू

जिसका मकसद तुर्की को दुनिया के टॉप 10 desho शामिल करना है 

राष्ट्रपति एर्डोगन ने कहा है की तुर्की भूमध्यसागर में खजानों की खोज जारी रखेगा 

और इसकी मुखालफत करने वालों को तुर्की ये पहले ही साफ़ कर चूका है की तुर्की उनकी धमकियों से डरने बाला नहीं है 

भूमध्यसागर में धमकी देने वालों की बोलती बंद हो चुकी है 

हमारे दुश्मनो को ये मालूम हो चूका है की तुर्की किसी की भी धमकी के आगे अपना सर नहीं झुकायेगा 

तुर्की जिन भूमध्यसागर के इलाकों में अपना प्रभाव रखता है उन इलाकों में किसी को भी आंख उठाकर देखने भी इजाजत नहीं मिलेगी 

हमने हमेशा बचकानी हरकत करने बाले देशो को बखूबी जबाब दिया है 

कौमी एकता और भाईचारे को निशाना बनाने वालों को हर एक खून के कतरे का हिसाब देना होगा 

जिस तरह हमने पहाड़ो में छुपे दहशतगरदो  को ख़त्म करने का सिलसिला जारी रखा हुआ है 

उसी तरह हमारे इलाके में छुपे उनके साथियो को भी उनके अंजाम तक पहुचायेंगे 

वहीँ तुर्की के RAKSHA मंत्री हुलुसि आकर ने माइक्रोन  को नेपोलियन की तरह काम करने की कोशिश करके ग्रीस के साथ विवाद को हवा देने का आरोप  लगाया है

हुलुसी अकर ने शुक्रवार को एक  ब्रिटिश चैनल के साथ एक Interview के दौरान कहा, मैक्रॉन उसके समाधान में योगदान नहीं दे रहे

हैं।