kailash-vijayvargiya: कभी जमातियों को बताया था मानव बम, अब कैलाश विजयवर्गीय का बेटा खुद निकला कोरोना पॉज़िटिव

kailash-vijayvargiya

कैलाश विजयवर्गीय (kailash-vijayvargiya) इंदौर के एक सक्रिय राजनेता हैं जो वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय महासचिव के रूप में कार्यरत हैं। बीते दिनों

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात के कार्यक्रम से लौटने के बाद कई व्यक्ति बहा से गायब हो गए इस पर भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (kailash-vijayvargiya) ने कहा था कि जिस प्रकार वहां (निजामुद्दीन मरकज) से (कोरोना वायरस से) संक्रमित होकर लोग घूम रहे हैं, वे मानव बम की तरह घूम रहे हैं। अपने इस बयान से वह मीडिया में काफी चर्चा में रहे थे।

अब ऐसी खबर सामने आ रही है कि कैलाश विजयवर्गीय के बेटे कल्पेश विजयवर्गीय को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है, उनको बॉम्बे अस्पताल में भर्ती किया गया है।

रिपोर्ट पॉज़िटिव आने के बाद से कैलाश विजयवर्गीय का पूरा परिवार क्‍वारंटीन हो गया है। कुछ ऐसी खबर भी सामने आयी कि कल्पेश विजयवर्गीय बीते दिनों राजस्थान के कोटा शहर गए थे। वहां से लौटने के बाद वे कोरोना पॉजिटिव हो गए। एक और भाजपा नेता नगर पदाधिकारी मुकेश राजावत, उनके परिवार के 11 सदस्य भी कोरोना पॉजिटिव पाये गए हैं।

अगर इंदौर में कोरोना संक्रमितों की बात करें तो आज कोरोना के 258 पॉजिटिव मरीज पाये गये हैं इसके आलावा पुरे इंदौर में 5 और लोगों की मृत्यु हो गयी है, अब अगर इंदौर में कोरोना से कुल मौतों की बात करें तो 398 आंकड़ा हो गया है। और 3584 मरीजों का इंदौर के अलग अलग अस्‍पतालों में उपचार चल रहा है। हम आशा करते हैं वो सब जल्द ही ठीक हो जाएँ।

कैलाश-विजयवर्गीय-kailash-vijayvargiya

image credit by www.bhopalsamachar.com

बृहस्पतिवार (2 अप्रैल) को कैलाश विजयवर्गीय ने संवाददाताओं से कहा था, जिस प्रकार वहां (निजामुद्दीन मरकज) से (कोरोना वायरस से) संक्रमित होकर लोग घूम रहे हैं, वे मानव बम की तरह घूम रहे हैं। इसलिए मैं मीडिया के माध्यम से अपील करना चाहता हूं कि ऐसे लोगों को खुद को प्रशासन को सौंप देना चाहिए ताकि समाज में यह बीमारी ना फैल सके



(kailash-vijayvargiya)

कैलाश विजयवर्गीय ये भी कहा, अगर ऐसे लोग खुद को प्रशासन के हवाले करते हैं, तो उनके खिलाफ कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं किया जायेगा। प्रशासन ऐसे लोगों की स्वास्थ्य की चिंता करते हुए उन्हें सावधानी के तौर पर पृथक केंद्रों में रखेगा और उनकी चिकित्सकीय मदद करेगा।”

कैलाश विजयवर्गीय (kailash-vijayvargiya) हमेशा अपने बयानों से चर्चा में रहते हैं उन्होंने बीते दिनों एक अजीब वो गरीब बयाना दिया था जिसमे उन्होंने कहा हमारे देश में 33 करोड़ देवी-देवता रहते हैं, कोरोना-फोरोना हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

इनको भी पढ़ें-

प्रणब मुखर्जी, एक विशाल राजनेता, जिसने भारत की राजनीति पर अपनी छाप छोड़ी
England vs Pakistan: बाबर आज़म ने विराट कोहली, Aaron Finch के T20I रिकॉर्ड की बराबरी की



Be the first to comment on "kailash-vijayvargiya: कभी जमातियों को बताया था मानव बम, अब कैलाश विजयवर्गीय का बेटा खुद निकला कोरोना पॉज़िटिव"

Leave a comment

Your email address will not be published.