जानें कितना बढा आपकी जेब पर बोझ, देश में जारी हुए रसोई गैस नये दाम

image source: commons.wikimedia

नई दिल्ली। बढ़ती महंगाई के बीच एलपीजी के मोर्चे पर नवंबर में राहत की खबर है। सरकारी तेल कंपनियों ने नवंबर महीने के लिए एलपीजी एलपीजी सिलेंडर की कीमत में बदलाव नहीं करने का फैसला किया है। इससे पहले अक्टूबर के महीने में भी एचपीसीएल, बीपीसीएल, आईओसी ने एलपीजी सिलेंडर की कीमत में बदलाव नहीं किया था। एक ओर, बाजार में आलू, प्याज और दालों की कीमतों में वृद्धि के बीच, यह आम आदमी के लिए राहत की बात मानी जाती है। हालांकि, 19 किलो के कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमत में 78 रुपये तक की बढ़ोतरी हुई है।

इससे पहले, जुलाई 2020 को 14 किलोग्राम एलपीजी सिलेंडर की कीमत में 4 रुपये की वृद्धि की गई थी। साथ ही, जून के दौरान दिल्ली में 14.2 किलोग्राम का गैर-सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर 11.50 रुपये महंगा हो गया, जबकि यह 162.50 रुपये सस्ता हुआ था। मई।

नई कीमत की जांच करें देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी IOC की वेबसाइट पर दी गई कीमत के अनुसार, दिल्ली में सिलेंडर की कीमतें स्थिर बनी हुई हैं। कीमतें पिछले महीने यानी अक्टूबर में थीं। वहीं, यह नवंबर महीने के लिए होगा।

14.2 किलोग्राम के गैर-सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत दिल्ली में लगातार 594 रुपये है। इसी तरह, मुंबई में गैर-सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत 594 रुपये है। हालांकि, चेन्नई में कीमतें 610 रुपये प्रति सिलेंडर भी रहती हैं। वहीं, कोलकाता में 14 किलो के सिलेंडर के लिए 620 रुपये चुकाने होंगे।

नवंबर महीने के लिए 19 किलो के कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमत बढ़ गई है। चेन्नई ने प्रति सिलेंडर अधिकतम 78 रुपये की बढ़ोतरी की है। अब यहां वाणिज्यिक सिलेंडर के लिए 1,354 रुपये का भुगतान करना होगा। कोलकाता और मुंबई में प्रति सिलेंडर 76 रुपये की बढ़ोतरी हुई है। इसके बाद, इन दोनों शहरों में नई कीमतें क्रमशः 1,296 रुपये और 1,189 रुपये हैं। राजधानी दिल्ली की बात करें तो अब आपको यहां कमर्शियल एलपीजी गैस सिलेंडर के लिए 1,241 रुपये चुकाने होंगे।

आपको याद दिला दें कि आज से एलपीजी गैस सिलेंडर की होम डिलीवरी का तरीका भी बदल रहा है। अब ग्राहकों को एलपीजी सिलेंडर के लिए वन टाइम पासवर्ड की जरूरत होगी। तेल कंपनियां इस नई प्रणाली को लागू कर रही हैं ताकि गैस सिलेंडर की चोरी के मामलों से निपटा जा सके और सही ग्राहक को वितरण किया जा सके। इस नई प्रणाली को वितरण प्रमाणीकरण कोड के रूप में जाना जाएगा। इसके तहत, गैस सिलेंडर की डिलीवरी तब तक पूरी नहीं होगी, जब तक कि ग्राहक को वितरण व्यक्ति को एक कोड नहीं दिखाया जाता है। शुरुआती चरण में, इस प्रणाली को 100 स्मार्ट शहरों में लागू किया जाएगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.