SEO क्या है | search engine optimization पूरी जानकारी हिंदी में 2020







SEO क्या है? और इसे कैसे करते हैं, इसके क्या क्या benefits है? SEO क्यूँ जरुरी है किसी भी website के लिए search engine optimization क्या है? SEO के कितने प्रकार होते हैं, अगर आप कोई website चलाते हैं या चलाने की सोच रहे हैं तो आपके भी मन में कभी न कभी ये सवाल जरूर आये होंगे।
इस लिए आप के लिए हम आज की post में इन सभी सवालों के जबाब लेकर आये हैं और आपके साथ SEO [search engine optimization]  full tutorial के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे।

आज हम एक digital युग में जी रहे हैं आज के दौर में हर इंसान अपनी मौजूदगी online दर्ज  करना चाहता है internet एक ऐसा जरिया है जिससे एक ही time में आप सैकड़ों लोगों के सामने अपनी बात को रख सकते हैं यही बजह है की आज हर कोई internet पर अपनी मोजुदगी दिखा रहा है.

अब लाखों करोड़ों website internet पर मौजूद हैं, इन लाखों करोड़ों website में से उसी website को ज्यादा लोग पड़ेंगे या [उसी website पर ज्यादा traffic आएगा ] जो search engine के top पर rank  करेगी

जब आपकी website search engine पर rank ही नहीं करेगी तो उस पर traffic कैसे आएगा?
search engine के top पर आने के लिए आपको अपनी website का SEO करना होगा
SEO वो techniques है जिससे search engine अपने user के लिए best जानकारी ढूंढ़ने में  मदद लेता है. उसी SEO की मदद से ही आप search engine में rank कर सकते हैं।

अब से कुछ साल पहले internet पर इतना compitition नहीं था तो SEO की इतनी जरुरत नहीं थी पर कुछ साल से internet पर बहुत compitition बढ़ गया है पहले search engine पर rank करना आसान था क्युकि compitition कम था पर अब इतना आसान नहीं है।

अब आपको search engine पर rank करने के लिए अपनी  website  का SEO करना होगा तभी आप search engine पर rank कर सकते हैं।
अब जरुरत है आपको SEO के बारे में जानने की और उसको कैसे अपनी website या post में इम्प्लीमेंट किया जाये  ये सोचने की

SEO techniques हमेशा एक जैसी नहीं होती जिसे आप एक  बार में सिख जाये ये  समय के साथ बदलती  रहती है search engine इसमें updates करते हैं इस लिए आपको अगर SEO का expert बनना है तो आप को चाहिए की आप हमेशा updates रहें और google जैसे search engine की  SEO policy को पड़ते रहें ताकि जब भी कोई new updates आये तो आपको पता होना चाहिए की अब SEO कैसे करना है।

चलिए आगे बढ़ते हैं…


 


 SEO क्या है | what is SEO?


SEO क्या हैंSEO का पूरा नाम search engine optimization हैं और ये search engine पर website को rank करवाने के काम आता है, बिना SEO, google, yahoo, और bing जैसे search engine पर rank करना बहुत मुश्किल है।
SEO की full form –
S = SEARCH
E = ENGINE
O = OPTIMIZATION

search engine optimization का हिंदी अर्थ होता है सर्च इंजन को अनुकूल करना
SEO [search engine optimization ] technique द्वारा कोई भी website मालिक  अपनी post को search  engine के top 10 में शामिल कर कर सकता है .
जितनी  भी internet पर website हैं वो सभी search engine के top में show होने के लिए SEO techniques का सहारा लेती है।

अब सवाल ये आता है कि सभी search engine के top में ही क्यूँ आना चाहते हैं उसकी एक सबसे बड़ी बजह है traffic क्युकि आमतौर पर क्या होता है  google, bing, yahoo जैसे search engine पर कोई जब कुछ search करता है तो ये search  engine  उसको उसके keywords से related resualts show करता है।

मान लीजिये आपने google पर search किया कि SEO क्या होता है?
जैसे ही  आप ये keywords google पर search करेंगे तो आपको बहुत सारे resualts देखने को मिलेंगे अब आप क्या करेंगे की जो सबसे ऊपर वाली post होगी आप उसी को open करके देखेंगे

अगर आप को वह post अच्छी नहीं लगी तो हो सकता है आप उसके निचे वाली post को भी open कर सकते हैं पर आप उससे ज्यादा किसी post को open नहीं करेंगे आमतौर पर यही होता है जितने भी  user होते हैं जब वो search engine पर कोई जानकारी search करते हैं तो SERP [ search resualts page ] के first पर जो post होती है उनको ही open करके देखते हैं।

इसलिए आज हर कोई search engine के first page पर rank करने की दौड़ में लगा है हर कोई ये चाहता है कि उसकी post search engine के first page पर rank करें और उसकी website पर ज्यादा से ज्यादा traffic आये।

ज्यादा traffic आपकी website पर आएगा तो ज्यादा आपकी income होगी और आपके blog को लोग पसंद करने लगेंगे।

SEO कितने प्रकार का होता है? What is the type of SEO?

SEO tehniques 2 type की होती हैं <  on-page  SEO और off-page SEO
on-page  SEO – में आपको post से related kewords का use करना होता है, article के बिच में kewords को डालना होता है और अच्छे से उसका title और meta description लिखना होता है

on-page SEO techniques द्वारा आप आप पहले keywords research करते हैं, फिर जिस keywords पर ज्यादा traffic होता है उन keywords से related post लिखते हैं और फिर उस keywords को post के title में डालते हैं।

on-page SEO में आपको अपनी पोस्ट के लिए meta description लिखना होता है, जिसमे आपको अपनी post के बारे में बताना है कि आप की post किस बारे में लिखी गयी है।

आपको post user फ्रेंडली लिखनी होती  है जिससे पड़ने में आसानी हो ज्यादा लम्बे लम्बे प्राग्राफ नहीं बनाने है 3 से 4 लाइन तक लिखना होता है ये सब on page SEO का ही हिस्सा है।

ON-PAGE SEO कैसे करें | How to do ON-PAGE SEO

चलिए जानते हैं on-page SEO कैसे करते हैं …





speed of website | वेबसाइट की गति

speed of website -फ्रेंड्स अगर आप search engine में rank करना चाहते हैं तो तो आपको ये जानना बहुत जरुरी है कि जो slow loading website होती है उनका bounce rates high होता है, ऐसे में search engine भी उन slow loading website को दिखाना पसंद नहीं करता है, उनकी जगह वो fast loading website को रखना पसंद करता है, अगर आपकी website का loading time slow है तो आप को उसे कम करने की जरुरत है।

meta title | मेटा शीर्षक

meta title हमारी post का नाम होता है जिससे हम search engine पर rank करने के लिए बनाते है जब हमारी post search engine पर show होती है तो यही meta title हमारी post के नाम की जगह show होता है। meta title को लिखते time आपको ये ध्यान देना है की आप की post किस बारे में है आपके meta title से पता चलना चाहिए की आपने post किस बारे में लिखी है।
आपको उसमे अपने keywords का use करना है और साथ ही साथ ये भी ध्यान देना है की आपके meta title की length 60 शब्द से ज्यादा बड़ी न हो ये भी एक SEO fact है, अगर आप अपने title की length 60 characters से ज्यादा रखते हैं तो हो सकता है आपकी post search engine पर rank ही न करें।

meta description | मेटा विवरण

meta description – में आपको 160 शब्द अपने article के बारे में लिखने होते हैं meta decription में आपको बताना है की आप की ये post किस बारे में हैं और पड़ने बाले को आपकी post को पढ़कर क्या फायदा हो सकता है ये सारी बातें आपको 160 शब्द के अंदर लिखनी हैं अगर आपको meta description लिखना नहीं आता है तो आप  meta title और meta description का SEO कैसे करें [2020] ये post पढ़ सकते हैं।

structure of URL | URL की संरचना

structure of URL – फ्रेंड्स ज्यादातर new blogger post को लिखते हैं और उसका SEO भी अच्छे से कर लेते हैं पर वो अपनी post के URL edit नहीं करते उसको जैसा होता है बसे ही छोड़ देते हैं इससे आपका URL आपकी post से relevant नहीं होता है इससे search engine पर गलत impect जाता है, हमे होना चाहिए कि हम जब भी अपने blog या website के लिए कोई भी post लिखें तो उसको publish करने से पहले उसके URL को optimize कर लें यानि आपकी post  का जो focus  keyword है वो आपकी post के URL में दिखना चाहिए ऐसा करने से आपकी post relevant दिखेगी और search engine भी उसको जल्दी rank करने की कोशिश करेगा।

keywords selection और implements | कीवर्ड्स का चयन

keywords selection और implements – हमारी post को search engine में rank करने के लिए जो सबसे जरुरी है वो है हमारा keywords है इसलिए आप जब भी कोई post लिखें तो उसके लिए perfact keyword select जरूर करें और फिर उसके बाद आपको उन keywords को अपनी post में इस तरह implement करना है जिससे की वो post के साथ relevant हो जाये और natural लगें ये नहीं लगना  चाहिए की आपने जबरदस्ती post में keywords को घुसा है, on-page SEO का सबसे best fact यही है की आप अपनी post को keywords का use करके इस तरह लिखें की आपकी post बिलकुल भी stuff की तरह न लगे सब कुछ natural लगना चाहिए। आपका content high quality दिखना चाहिए।

Heading में keywords implements | कीवर्ड को लागू करना

Heading में keywords implements -heading हमारी post का वो part होता है जिसको पढ़कर user को पता चलता है कि अब आगे post में क्या लिखा है, किसी भी article को समझने के लिए heading एक बहुत बड़ा रोल निभाता है heading H1 से H6 तक होते हैं जिसमे H1 heading हमारी post का title होता है उसके बाद हम जो post में heading देते हैं  वो H2 heading होता है इसी तरह आप subheading H6 तक अपनी post में दे सकते है।

post में heading देते time आपको उसमे अपनी post का keyords भी डालना है,heading में keywords को use करते time आपको ख्याल रखना है कि आपका heading stuff के जैसा नहीं लगना चाहिए इसलिए keywords को इस तरह heading में डालना है जिससे पड़ने बाले का intrest आपके article में बना रहे और heading etractive भी हो।

 image optimization | छवि अनुकूलन

image optimization में आपको अपनी image का SEO करना होता है जैसे की आपकी post का जो focus keyword है उसका use आप अपनी post की  image के  name की जगह use कर सकते है image name में आपको वो focus keyword डालना है या यूँ समझ लीजिये की जो आपकी post नाम है, post title है उसको copy करके image के नाम की जगह डाल सकते हैं।

जब आप अपनी wordpress blog की पोस्ट मे कोई image को upload करते हैं तो आपको alt text का खाली option मिलता है, आप उसमे image को descrive करने के लिए keywords का use कर सकते हैं। इससे आपकी image search engine के लिए optimize हो जाएगी आप alt text को खाली न छोड़ें।

intenal links | आंतरिक लिंक

intenal links  – अगर हम अपनी post में internal links को add करते हैं तो इसका एक तो ये फायदा है कि जो भी visitor हमारी पोस्ट को पढ़ रहा होगा उसको हमारी दूसरी post पर जाने में मदद मिलेगी और इसका दूसरा फायदा ये है की अगर हमारी post  में internal links मौजूद है तो search engine को भी मदद मिलेगी

हमारी post को fast index करने के लिए, इसलिए आप जब भी कोई post को लिखें उसमे अपनी दूसरी related पोस्ट के links को जरूर add करें इससे आपकी post  के साथ user की engagement बढ़ती है और search engine भी internal links को पसंद करते हैं।


off-page SEO कैसे करें | how to do off-page SEO?

social media | सामाजिक मीडिया

फ्रेंड्स आपकी website को एक brand बनाने के लिए social media एक एहम भूमिका निभाता है और उसके साथ साथ आपकी website पर traffic लाने का काम भी करता है।  कैसे ?

social media का platfrom का off -page SEO में use करने के लिए आपको facebook, twitter, instagram, linkedin  जैसी website पर अपने niche से related profile बनानी है फिर उसके बाद आप जो भी post अपने blog पर publish करें उसके अपनी social media platfrom profile पर भी share करें

ऐसा करने से ज्यादा ज्यादा से लोगो को आपकी post के बारे में पता चलेगा जो links आप social media पर share करेंगे उस links पर click करके visitors आपकी website पर आ जायेंगे इससे आपका traffic बढ़ेगा और इन social media site पर आपकी post के links देख कर search engine में आपकी rank भी incease होने लग जाएगी।

Guest post | अतिथि पद

off-page SEO करने का दूसरा और बेहतर तरीका है guest posting करना, अगर आप चाहते हो की आपकी website traffic ए और आपको quality backlinks मिले तो उसके लिए आप guest posting कर सकते हैं

आमतौर पर इस तरह के off -page SEO को बहुत अच्छा मन जाता है आपको बस अपने निचे के हिसाब से ऐसी website ढूंढ़नी है जिस पर आप guest post कर पाए उसके बाद आपको 500 से 1000 words की कोई post लिखें और उसमे अपनी दूसरी post के links को add करदें इसके बाद उसको publish करें

आपको ऐसा करने से high quality backlinks मिल जायेगे और ज्यादा से ज्यादा ऑडियंस भी आपको मिल जाएगी जिससे आपकी website का traffic भी बढ़ेगा।

आप सोच रहें होंगे कि कौन इतना time खराब करेगा post लिखने के लिए पर ऐसा नहीं है आप जो post अपनी website पर publish करेंगे आपको उसको थोड़ा बहुत change करके उन guest post site  publish करना है, आप medium, पर guest post कर सकते हैं ये बहुत popular website है guest posting के लिए 
https://medium.com/

search engine submission | खोज इंजन प्रस्तुत

आप अपनी website को search engine पर  submit करे आपको अपनी website को popular search engine पर manually submit करना होगा इससे आपकी post को जल्दी सभी search engine में crawl होने में मदद मिलती है और आपकी post search engine में rank करने लग जाती है उसके लिए आपको अपनी post को google, yahoo, bing  जैसे search engine में submit करना होगा ये भी off-page SEO का ही एक हिस्सा है।

social bookmarking off-page SEO

off-page SEO में social bookmarking site बहुत कारगर साबित होती है आपको इस website पर अपनी post को share करना होता है और लोगो के सवालों के जबाब देने होते है आप उन जबाब में अपनी website का links add कर सकते हैं जिससे जो भी उसको पड़े वो उस links पर click करके आपकी website तक पहुंच जाये
इन site पर आपको अपने niche के हिसाब से लोगों के सवालों के जबाब देने है इससे लोग आपको उस niche में expert समझने लग जायेंगे और आपकी और आपके blog की वैल्यू भी बढ़ने लगेगी .

popular bookmarking sites | लोकप्रिय बुकमार्क करने वाली साइटें

कुछ social bookmarking site जहा आप profile बनाकर अपनी post submit कर सकते हैं

google map business site | गूगल मैप बिजनेस साइट

अपने blog पर local traffic लाने के लिए ये बहुत अच्छा तरीका है आप अपनी website को google map में submit कर सकते हैं इससे google आपकी target audience तक पहुंचने में आपकी मदद करेगा और साथ ही आप उस पर अपनी post भी submit कर सकते हैं।

 

Comments backlinks | टिप्पणियाँ backlinks

off-page SEO का ये बहुत आसान और अच्छा तरीका है इसमें आपको अपनी website के niche के हिसाब  popular website search करनी है और उनकी post में comments करना है और अपनी post का link भी छोड़ना है इससे आपकी website को एक backlink मिल जायेगा।

आप इस तरह भी off-page SEO  हैं आपको commensts करने इ लिए website ढूंढ़ने के लिए ज्यादा म्हणत नहीं करनी पड़ेगी आपको बीएस ये देखना है जिस topic के ऊपर आपने post लिखी है उस keywords पर जिसकी post सबसे ऊपर rank कर रही होगी आपको उसके backlinks को check करना है जहाँ जहाँ उसने backlinks बनाये होंगे बही पर आप भी backlinks बना ले।

 

photo sharing sites | फोटो शेयरिंग साइट्स

फ्रेंड्स जब कोई अपने blog के लिए post लिखता है तो उसमे images को add जरूर करता है ऐसे में आप post की emages को photos sharing website पर share करते हैं तो आप की फोटो के जरिये आपकी website पर traffic जरूर आएगा जो भी उसके images को देखेगा हो सकता है वः उसम पर commants भी करें।

 

video sharing sites | वीडियो साझा करने की साइटें

off-page SEO करने का एक ये भी बहुत कारगर तरीका है आप जो पोस्ट लिख रहे हैं, उससे related आप कोई video create कर सकते हैं और उसको youtube जैसी website पर upload कर सकते हैं और अपनी website का links दे सकते हैं इससे जो भी उस video को देखेगा वो उस video के जरिये आपकी website आ जाये इससे आपको off-page SEO में काफी मदद मिलती website की authority बढ़ती है और traffic भी बढ़ता है।

Article submission websites  | लेख प्रस्तुत करने वाली वेबसाइटें

off-page SEO में आप अपने article को go article, Ezine, और now public जैसी websites submit कर सकते हैं इससे आपको backlinks मिलने शुरू हो जायेंगे और आपका traffic भी incease होगा।

directory submission sites | निर्देशिका प्रस्तुत sites

फ्रेंड्स off-page SEO करने का ये भी एक रामबाड तरीका है आप directory submission website पर submit कर सकते हैं हो सकता है कुछ लोगों के ऐसा लगता हो कि ये site अब काम  नहीं करती हैं ये सोचना गलत होगा directory submission से आप की rank अच्छी होती है और आपके domain की authority भी बढ़ जाती है हो सकते है ये थोड़ा slow काम करें पर काम जरूर करेगी।

सर्च इंजन का महत्व | Importance of search engine

सर्च इंजन का महत्व के महत्व को समझना बहुत जरुरी है बरना हो सकता है आप कभी search engine पर rank ही न कर पाओ।
फ्रेंड्स आजकल जितने भी लोग internet का इस्तेमाल करते है वह लोग अपने सवालों के जबाब ढूंढ़ने के लिए google yahoo, या bing जैसे search engine का सहारा लेते हैं बिना search engine के आप internet पर कुछ नहीं ढूंढ सकते आपको किसी न किसी search engine पर search करना ही पड़ेगा।

उसी तरह आप website और blog मालिकों के लिए भी सर्च इंजन का महत्व बहुत है बिना सर्च इंजन के उसकी website या blog पर कोई नहीं आ सकता और उसके लिए भी जरुरी है की वह search engine को अनुकूल करें और अपनी post का अच्छे से SEO करें तभी वह search engine पर अपनी एक पहचान बना सकते हैं।

SEO [ सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन ] का महत्व क्या है ?

SEO का  महत्व किसी भी वेबसाइट के लिए बहुत मायने रखता है अगर आपकी post search engine के first page पर rank करती है तो आपकी website पर organic traffic बढ़ने लग जायेगा और आपकी rank में भी सुधार देखने को मिलेगा।
अगर कोई SEO नहीं करता है और अपने blog पर अच्छे अच्छे content लिखता है और अपनी website को अच्छे से disign भी करता है, तो उसके उस blog का कोई फायदा नहीं होगा क्युकि उसकी post search engine पर rank ही नहीं करेगी बिना SEO

आपके पास अच्छे content तो है पर आपने उन content का SEO किया ही नहीं जिससे वह search engine में rank कर सकें।
अगर आप एक प्रोफेसनल ब्लॉगर बनाना चाहते हैं तो आपको SEO techniques सिखने होंगे  तभी आप एक सफल blogger बन सकते हैं और अपनी website को search engine  पर rank करवा सकते हैं।

जब तक हम अपनी website का SEO नहीं करते हैं तो search engine हमारी website की जानकारी को और उसके content को ढूंढ नहीं पता है इस बजह से हमारे content search engine  पर rank नहीं कर पाते हैं.
पर आपको घबराने की जरुरत नहीं है SEO techniques को सीखना इतना मुश्किल नहीं है आप आसानी से SEO techniques सिख सकते हैं।

SEO के कुछ खास काम जिससे हमारी website rank करती है।

  • SEO [search engine optimization] हमारे content को search engine के first page पर rank करता है।
  • SEO करने से हमारी website का traffic increase होता है।
  • SEO को अगर हु अच्छे से करें तो उससे user engagement बढ़ती है और visitors आपकी website पर बार बार आते हैं।
  • SEO की मदद से आप अपने compititors को पीछे छोड़ सकते हैं उसने ऊपर rank कर सकते हैं।
  • SEO करने से आपकी website user फ्रेंडली बन जाती है जिसे use करना आसान होता है।
  • जिस content का आप SEO करते हैं वो जल्दी RANK करता है और CONTENT के मुकाबले

SEO का मुख्य उद्देष्य ही website को rank करना और सही जानकारी user तक पहुंचना है जो लोग SEO की तरफ ज्यादा ध्यान नहीं देते वो एक दिन traffic न आने की बजह से निराश होकर अपनी website बंद कर देते हैं जिससे उनकी सारी म्हणत खराब हो जाती है SEO एक ऐसा tool है जो आपकी website की तकदीर को बदल सकता है , आप जब भी कोई post लिखें तो SEO के साथ ही लिखें।

conclusion 

फ्रेंड्स आपको हमारी SEO क्या है और इसे कैसे करें | What is SEO and how to do it 2020 post किसी लगी हमे जरूर बताएं और साथ आप हमे बता सकते हैं की इस post में क्या कमी है और इसमें हमे और क्या बताना चाहिए था , आप अपनी राय हमारे साथ रख सकते हैं, आपके इस प्यार की बजह से ही आ हम इस मुकाम पर पहुंचे हैं।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी हो तो आप इस post को अपने दोस्तों और new blogger के साथ जरूर share करें और इसी तरह की जानकारी भरी post आगे भी पड़ने के लिए आप हमे subscribe करना न भूले, आप हमे facebook, twitter, linkedin आदि social media platform पर  follow कर सकते हैं।

इनको भी पढ़े:-


1 Comment on "SEO क्या है | search engine optimization पूरी जानकारी हिंदी में 2020"

  1. Little Fires Everywhere Cast: Episodes 2020 | August 7, 2020 at 4:07 am |

    thank you for sharing your information

Leave a comment

Your email address will not be published.