X

यूपी में महामारी हुई आउट ऑफ़ कण्ट्रोल : संक्रमितो की बढ़ती संख्या से प्रशासन ही नहीं आमजन भी परेशान

image source: thehindu

अमेठी। जिले में कोरोना रोगियों की बढ़ती संख्या ने जिला प्रशासन के साथ आम जनता की चिंता बढ़ा दी है। प्रवासी मज़दूरों की आमद के अंत में, कोरोना रोगियों की संख्या अचानक एक महीने के नियंत्रण के बाद बढ़ गई और सक्रिय रोगियों की संख्या दसियों तक बढ़ गई, लेकिन लोगों की लापरवाही ने एक बार फिर जिले में कोरोना रोगियों को अनलॉक करना शुरू कर दिया। संख्या बढ़ने से सभी को चिंता हुई। पिछले एक हफ्ते के आंकड़ों पर गौर करें तो जिले में 31 अगस्त से 6 सितंबर के बीच दस हजार से ज्यादा लोगों की जांच की गई और 9555 रिपोर्ट में 321 पॉजिटिव पाए गए।यूपी में महामारी हुई आउट ऑफ़ कण्ट्रोल : संक्रमितो की बढ़ती संख्या से प्रशासन ही नहीं आमजन भी परेशान

जिले की हालत यह है कि शाम की रिपोर्ट में positive की संख्या लगभग आधा सैकड़ा आ रही है। अब तक जिले में कुल 1493 कोरोना positive  मरीज पाए गए, जिनमें से 1102 को बरामद किया गया है। वर्तमान में जिले के अस्पतालों और घरों में 381 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। जिले में कोरोना से अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है। लगातार बढ़ती सकारात्मकता से निपटने के लिए जिले का प्रशासन प्रयासरत है। जिला मजिस्ट्रेट अरुण कुमार खुद एकीकृत कोविद कमान और नियंत्रण केंद्र में हर दिन बैठे हैं और समीक्षा के साथ आवश्यक उपाय करने का निर्देश दे रहे हैं।

कलेक्टर ने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है। जिले में पूर्ण इलाज कराया गया है। L-1 और L-2 स्तर कोविद अस्पताल की सुविधा जिले में ही उपलब्ध है और L-3 कोविद अस्पताल जल्द ही शुरू किया जा रहा है। लोगों को भी सावधानी बरतनी चाहिए और यदि आवश्यक हो तो कम से कम घर से बाहर निकलना चाहिए। शुरुआती लक्षण देखें और तुरंत इलाज लें। यह संक्रमण सभी के सहयोग से ही लड़ा जा सकता है।

Naeem Ahmad:

This website uses cookies.